Vyashti Arthshastra Ek Parichay Class 12

Vyashti Arthshastra Ek Parichay Class 12

व्यष्टि अर्थशास्त्र एक परिचय
अध्याय -1


महत्वपूर्ण बिंदु (Vyashthi Arthshastra Ek Parichay)

👉 व्यष्टि  अर्थशास्त्र , अर्थशास्त्र की वह शाखा है जो व्यक्तिगत स्तर पर आर्थिक समस्याओं का अध्ययन कराती है। जैसे- व्यक्तिगत फर्म, व्यक्तिगत उद्योग, व्यक्तिगत माँग तथा एक उपभोक्ता आदि।
 
👉समष्टि अर्थशास्त्र के अंतर्गत सम्पूर्ण अर्थव्यवस्था तथा उसके समुच्चयों का अध्ययन किया जाता है। जैसे- समग्र माँग, राष्ट्रीय आय, राष्ट्रीय विनियोग, कुल रोजगार, कुल उत्पादन एवं सामान्य कीमत स्तर आदि।
 
👉अर्थव्यवस्था वह प्रणाली है जो लोगों को जीविका अर्जित करने के साधन और जीविका प्रदान करती है।
 
👉आर्थिक समस्या असीमित आवश्यकताओं की संतुष्टि हेतु वैकल्पिक उपयोग वाले सीमित साधनों के उपयोग के चयन की समस्या है। इसके उत्पन्न होने के प्रमुख तीन कारन है:-
  1. मानवीय आवश्यक्ताओं का असीमित होना।
  2. साधनों का सीमित होना।
  3. साधनों के वैकल्पिक प्रयोग।

👉एक अर्थव्यवस्था की तीन केंद्रीय समस्याएँ है :-

  1. क्या उत्पादन किया जाए? – यह वस्तुओं की चयन की समस्या है।
  2. कैसे उत्पादन किया जाए? – यह तकनिकी की चयन की समस्या है।
  3. किसके लिए उत्पादन जाए? – यह वस्तुओं तथा आय की वितरण की समस्या है।

👉एक अवसर का चयन करने पर दूसरे सर्वश्रेष्ठ अवसर का किया गया त्याग अवसर लागत कहलाता है। इसे सर्वश्रेष्ठ विकल्प की लगत भी कहा जाता है।

 
👉उत्पादन संभावना वक्र दो वस्तुओं के उन सभी संयोगो को दर्शाता है जिनका उत्पादन एक अर्थव्यवस्था अपने दिए हुए संसाधनों तथा तकनिकी स्तर का प्रयोग कर के कर सकती है, यह मानते हुए की सभी  संसाधनों का पूर्ण एवं कुशलतम प्रयोग हो रहा है।
 
👉उत्पादन संभावन वक्र की विषेशताएँ है –
  1. उत्पादन संभावन वक्र की ढाल बायें से दायें ऋणात्मक होता है- इसका कारन साधनों की सीमितता है, जिस कारन एक वास्तु के अतरिक्त मात्रा के उत्पादन करने से दूसरी वास्तु के उत्पादन मात्रा में कमी करनी होती है।
  2. यह मूल बिंदु की ओर नतोदर होता है- इसका कारन बढ़ती हुयी सीमांत अवसर लागत है। अर्थात एक वास्तु का उत्पादन बढ़ने के लिए दूसरी वास्तु एक इकाईयों का त्याग बढाती दर पर करना पड़ता है।

👉सीमांत विस्थापन दर एक वास्तु की त्यागी जाने वाली इकाईयों तथा अन्य वास्तु की बढ़ाई गई एक अतरिक्त इकाई का नुपात है।

MRT = ΔY/ΔX
सीमांत विस्थापन दर को सीमन अवसर लगत भी कहते है क्योंकि वास्तु की एक अतरिक्त इकाई को बढ़ाने के लिए दूसरी वस्तु की एक अतरिक्त इकाई का त्याग करना पड़ता है।
 
👉अर्थशास्त्र का सकारात्मक विश्लेषण:- इसके अंतर्गत वास्तविकता का अध्ययन किया जाता है। इसमें क्या था? क्या है? जैसे वास्तविक कथनों का विश्लेषण किया जाता है। उदहारण के लिए भारत की जनसँख्या 2011 में कितनी थी? वर्तमान में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों की संख्या कितनी है? इन कथनों की जाँच संभव होती है।
 
👉अर्थशास्त्र का आदर्शात्मक विश्लेषण :- इसमें “क्या होना चाहिए” से संबंधित विश्लेषण किया जाता है। इसमें आदर्शात्मक परिस्थितियों का विश्लेषण किया जाता है। इसकी प्रकृति सुझाव देने की है। उदहारण के लिए भारत में आय व धन की असमानताओं को काम करने के लिए सरकार को अमीरों पर अधिक कर लगाने चाहिए और गरीबों को आर्थिक सहायता देनी चाहिए। इन कथनों की जाँच संभव नहीं होती।
महत्वपूर्ण वस्तुनिष्ठ प्रश्न-उत्तर
 
1 अर्थशास्त्र का विकास संबंधी विचार किसके द्वारा प्रस्तुत किया गया?
(a) रॉबिन्स
(b) सैम्युलसन
(c) मार्शल
(d) एडाम स्मिथ 
 
उत्तर- सैम्युलसन
 
2 दुर्लभता की समस्या उत्पन्न होती है, क्योंकि हमारे साधन है:
(a) उपयुक्त 
(b) असीमित
(c) सीमित
(d) अत्यधिक
 
उत्तर- सीमित
 
3 अर्थव्यवस्था के विकास के लिए साधनों का होना आवश्यक है:
(a) उपयोगिता 
(b) विकास 
(c) गैर-उपयोग 
(d) बर्बादी
 
उत्तर- विकास
 
4 प्रत्येक अर्थव्यवस्था का साधन होता है:
(a) पर्याप्त
(b) असीमित
(c) सीमित
(d) गैर-उपयोगी 
 
उत्तर- सीमित
 
5 समस्त आर्थिक समस्याओं के कारन है:
(a) साधनों का वैकल्पिक प्रयोग 
(b) सीमित साधन 
(c) असीमित आवश्यकताएँ
(d) इनमें से सभी 
 
उत्तर- इनमें से सभी 
 
6 वह तालिका जिसमें उपभोक्ता द्वारा विभिन्न कीमतों पर माँगी गयी मात्राओं को दर्शाया जाता है, उसे कहते है:
(a) उपभोक्ता माँग अनुसूची 
(b) बाजार माँग अनुसूची 
(c) उत्पादक पूर्ति अनुसूची 
(d) बाजार पूर्ति अनुसूची 
 
उत्तर- उपभोक्ता माँग अनुसूची 
 
7 वह तालिका जिसमें उत्पादक द्वारा विभिन्न कीमतों पर बेची गयी मात्राओं को दर्शाया जाता है, उसे कहते है:
(a) उत्पादक पूर्ति अनुसूची
(b) उपभोक्ता माँग अनुसूची
(c) बाजार माँग अनुसूची 
(d) बाजार पूर्ति अनुसूची
 
उत्तर- उपभोक्ता माँग अनुसूची
 
8 अवसर लागत का वैकल्पिक नाम है:
(a) साम्य कीमत 
(b) सीमांत लागत 
(c) औसत लागत 
(d) आर्थिक लागत 
 
उत्तर- आर्थिक लागत
 
9 …………….. अर्थव्यवस्था को आधारभूत समस्याओं का सामना करना पड़ता है:
(a) मिश्रित
(b) समाजवादी
(c) प्रत्येक
(d) पूँजीवादी
 
उत्तर- 
 
10 उपभोक्ता व्यव्हार का अध्ययन किया जाता है:
(a) समष्टि अर्थशास्त्र में 
(b) व्यष्टि अर्थशास्त्र में 
(c) दोनों में
(d) इनमें से कोई नहीं 
 
उत्तर- व्यष्टि अर्थशास्त्र में 
 
11 व्यष्टि अर्थशास्त्र के अंतर्गत निम्न में से किसका अध्ययन किया जाता है?
(a) आर्थिक समग्र 
(b) व्यक्तिगत इकाई 
(c) राष्ट्रीय आया 
(d) कुल रोजगार 
 
उत्तर- व्यक्तिगत इकाई
 
12 समष्टि अर्थशास्त्र के अंतर्गत निम्न में से किसका अध्ययन किया जाता है?
(a) कुल उत्पादन 
(b) पूर्ण रोजगार 
(c) राष्ट्रीय आय 
(d) इनमें से सभी 
 
उत्तर- इनमें से सभी 
 
13 व्यष्टि अर्थशास्त्र की शाखाएँ कौन-सी है? 
(a) आर्थिक कल्याण 
(b) साधन कीमत निर्धारण 
(c) वास्तु कीमत निर्धारण 
(d) इनमें से सभी 
 
उत्तर- इनमें से सभी 
 
14 उत्पादन के निम्न में से कौन-से साधन है? 
(a) भूमि
(b) श्रम
(c) पूँजी
(d) इनमें से सभी 
 
उत्तर- इनमें से सभी 
 
15 ‘माइक्रोज’ जिसका अर्थ है छोटा, निम्न में कौन सा सब्द है? 
(a) ग्रीक
(b) अरबी
(c) जर्मन
(d) अग्रेजी
 
उत्तर- ग्रीक
 
16 आर्थिक क्रिया के अध्ययन के संबंध में अर्थशास्त्र को दो शाखाओं व्यष्टि और समष्टि में निम्न में किसने विभाजित किया?
(a) एडाम स्मिथ 
(b) रिकार्डों 
(c) रैगनर फ्रिश 
(d) मार्शल
 
उत्तर- रैगनर फ्रिश 
 
17 किसने कहा “अर्थशास्त्र धन का विज्ञान है”: 
(a) मार्शल
(b) एडाम स्मिथ 
(c) रॉबिन्स
(d) हिक्स
 
उत्तर- एडाम स्मिथ 
 
18 व्यष्टि अर्थशात्र में सम्मिलित होती है: 
(a) छोटे-छोटे चार
(b) व्यक्तिगत मूल्य निर्धारण 
(c) व्यक्तिगत इकाई 
(d) इनमें से सभी
 
उत्तर- इनमें से सभी
 
19 अर्थशास्त्र के जनक है: 
(a) हिक्स 
(b) रॉबिन्स
(c) मार्शल
(d) एडाम स्मिथ 
 
उत्तर- एडाम स्मिथ 
 
20 अर्थशास्त्र की कल्याण संबंधी परिभाषा के जन्मदाता है?
(a) एडाम स्मिथ 
(b) सेम्युल्सन
(c) रॉबिन्स 
(d) मार्शल
 
उत्तर- मार्शल
 
21 सबसे पहले ‘माइक्रो” शब्द का प्रयोग करने वाले? 
(a) रैगनर फ्रिश 
(b) कीन्स
(c) बोल्डिंग ने
(d) मार्शल ने
 
उत्तर- रैगनर फ्रिश 
 
22 किसके अनुसार अर्थशास्त्र मानव कल्याण का विज्ञान है?
(a) रैगनर फ्रिश
(b) सेमुल्सन 
(c) मार्शल
(d) एडाम स्मिथ 
 
उत्तर- मार्शल
 
23 निम्नलिखित में से कौन-सा उत्पति का साधन नहीं है:
(a) पूँजी
(b) मुद्रा 
(c) भूमि
(d) श्रम
 
उत्तर- मुद्रा 
 
24 ‘The Wealth of Nations’ किसकी पुस्तक है?
(a) एडाम स्मिथ 
(b) हिक्स
(c) मार्शल
(d) रॉबिन्स
 
उत्तर- एडाम स्मिथ 
 
25 ‘The Principle of Economics’ किसकी पुस्तक है?
(a) रॉबिन्स
(b) हिक्स 
(c) मार्शल
(d) एडाम स्मिथ 
 
उत्तर- मार्शल
 
26 भारत की अथव्यवस्था कैसी है: 
(a) साम्यवादी
(b) पूँजीवादी
(c) समाजवादी
(d) मिश्रित 
 
उत्तर- मिश्रित 
 
27 निम्न में किस आधार पर आर्थिक समस्याओं का ढाँचा खड़ा है?
(a) असीमित अवश्याक्ताएँ और सीमित साधन
(b) असीमित अवश्याक्ताएँ 
(c) सीमित साधन
(d) अविकसित साधन 
 
उत्तर- असीमित अवश्याक्ताएँ और सीमित साधन
 
28 आर्थिक समस्या मूलतः किस तथ्य की समस्या है?
(a) उपभोक्ता चयन की 
(b) फार्म चयन की 
(c) उत्पादक चयन की 
(d) चुनाव की 
 
उत्तर- चुनाव की 
 
29 साधन की प्रमुख विशेषताएँ कौन-सी है?
(a) यह मानव अवश्याताओं की तुलना में सीमित है
(b) इनका वैकल्पिक प्रयोग संभव है
(c) दोनों 
(d) इनमें से कोई नहीं 
 
उत्तर- दोनों
 
30 अर्थव्यवस्थ को वर्गीकृत किया जा सकता है?
(a) पूँजीवादी 
(b) समाजवादी 
(c) मिश्रित 
(d) इनमें से सभी 
 
उत्तर- इनमें से सभी
 
31 अर्थव्यवस्था की केंद्रीय समस्या है?
(a) कैसे उत्पादन हो?
(b) उत्पादित वस्तुओं का वितरण कैसे हो?
(c) क्या उत्पादन हो?
(d) इनमें से सभी 
 
उत्तर- इनमें से सभी
 
32 निम्न में किस अर्थव्यवस्था में निजी क्षेत्र और सार्वजनिक क्षेत्र का सह-अस्तित्व होता है?
(a) समाजवादी 
(b) पूँजीवादी 
(c) मिश्रित
(d) साम्यवादी 
 
उत्तर- मिश्रित
 
33 एक समाजवादी अर्थव्यवस्था का मूल उद्देश्य होता है:
(a) मुनाफा कमाना 
(b) आर्थिक स्वतंत्रता 
(c) अधिकतम लोक कल्याण 
(d) अधिकाधिक उत्पादन 
 
उत्तर- अधिकतम लोक कल्याण 
 
34 किस अर्थव्यवस्था में कीमत तंत्र के आधार पर निर्णय लिए जाते है?
(a) समाजवादी 
(b) पूँजीवादी 
(c) मिश्रित 
(d) इनमें से सभी 
 
उत्तर- पूँजीवादी 
 
35 उत्पादन संभावना वक्र का ढाल गिरता है:
(a) दायें से बायें 
(b) ऊपर से निचे 
(c) निचे से ऊपर 
(d) बायें से दायें 
 
उत्तर- बायें से दायें 
 
36 उत्पादन संभावना वक्र…………………..:
(a) अक्ष के समान्तर होती है 
(b) अक्ष की ओर उन्नतोदर होती है 
(c) अक्ष की ओर नतोदर होती है 
(d) अक्ष के लम्बवत होती है
 
उत्तर- अक्ष की ओर नतोदर होती है 
 
37 उस वक्र का नाम बतायें जो आर्थिक समस्या दर्शाता है:
(a) माँग वक्र 
(b) उदासीन वक्र 
(c) उत्पादन संभावना वक्र 
(d) उत्पादन वक्र 
 
उत्तर- उत्पादन संभावना वक्र
महत्वपूर्ण प्रश्न – उत्तर (Vyashti Arthshastra Ek Parichay Class 12)

प्रश्न: व्यष्टि अर्थशास्त्र क्या है?
उत्तर: व्यष्टि अर्थशास्त्र, अर्थशास्त्र की वह शाखा है जिसके अंतर्गत आर्थिक क्रियाओं से संबंधित छोटे-छोटे चरों का अध्ययन किया जाता है जैसे- एक उपभोक्ता का व्यवहार, व्यक्तिगत उत्पादक व फर्म की आर्थिक क्रियाओं से संबंधित गतिविधियाँ आदि।

प्रश्न: समष्टि अर्थशास्त्र क्या है?
उत्तर: समष्टि अर्थशास्त्र, अर्थशास्त्र की वह शाखा है जो सम्पूर्ण अर्थव्यवस्था से संबंधित आर्थिक समस्याओं का अध्ययन कराती है। जैसे- समग्र माँग, समग्र आपूर्ति, राष्ट्रीय आय और राष्ट्रीय उत्पाद आदि।

प्रश्न: केंद्रीय योजनाबंद्ध अर्थव्यवस्था क्या है?
उत्तर: वह अर्थव्यवस्था  जिसमे उत्पादन, उपभोग तथा निवेस से संबंधित मुख्य निर्णय किसी केंद्रीय अधिकारी द्वारा लिए जाते है, केंद्रीय योजनाबंद्ध अर्थव्यवस्था कहलाता है। इसका मुख्य उद्देश्य सामाजिक कल्याण को अधिकतम करना है।

प्रश्न: बाजार अर्थव्यवस्था क्या है?
उत्तर: यह एक स्वतन्त्र अर्थव्यवस्था है, जिसमें बाजार में कीमत सयंत्र के अनुसार उपभोक्ता तथा उत्पादक अपने उपभोग तथा उत्पादन के निर्णय लेते है। इस अर्थव्यवस्था का मुख्य उद्देश्य अधिक से अधिक लाभ कमाना होता है।

मिश्रित अर्थव्यवस्था क्या है?
उत्तर: मिश्रित अर्थव्यवस्थ, वह अर्थव्यवस्था होती है जिसमे केंदीय योजनाबंद्ध और बाजार अर्थव्यवस्था दोनों का सहस्तित्व पाया जाता है। इसमें उत्पादन, उपभोग तथा निवेश संबंधी निर्णय बाजारी शक्तियों की स्वतंत्र अंतक्रिया पर छोड़ दिए जाते है। परन्तु आर्थिक क्रियाओं का नियमन सरकार द्वारा होता है ताकि व्यक्तिगत कल्याण के साथ सामाजिक कल्याण अधिकतम हो सके।

प्रश्न: वास्तविक अर्थशास्त्र क्या है? या, अर्थशास्त्र को वास्तविक विज्ञान के रूप में परिभाषित करें।
उत्तर: इसके अंतर्गत वास्तविकता का अध्ययन किया जाता है। इसमें क्या था? क्या है? जैसे वास्तविक कथनों का विश्लेषण किया जाता है। उदहारण के लिए भारत की जनसँख्या 2011 में कितनी थी? वर्तमान में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों की संख्या कितनी है? इन कथनों की जाँच संभव होती है।

प्रश्न: आदर्शात्मक अर्थशास्त्र क्या है? या, अर्थशास्त्र को आदर्श विज्ञान के रूप में परिभाषित करें।
उत्तर: इसमें “क्या होना चाहिए” से संबंधित विश्लेषण किया जाता है। इसमें आदर्शात्मक परिस्थितियों का विश्लेषण किया जाता है। इसकी प्रकृति सुझाव देने की है। उदहारण के लिए भारत में आय व धन की असमानताओं को काम करने के लिए सरकार को अमीरों पर अधिक कर लगाने चाहिए और गरीबों को आर्थिक सहायता देनी चाहिए। इन कथनों की जाँच संभव नहीं होती।

प्रश्न: आर्थिक क्रिया क्या है? इसके कितने प्रकार है?
उत्तर: वैसी क्रियाएँ जो आय का सृजन करती है, आर्थिक क्रिया कहलाती है। लेकिन सभी आर्थिक क्रियाएँ आय का सृजन नहीं करती हैं। जैसे, उपभोग एक ऐसी आर्थिक क्रिया है जो आय का सृजन नहीं करती है बल्कि इसके लिए मूल्य का भुक्तान करना पड़ता है। आर्थिक क्रियाओं को मुख्य चार भागों में बाँटा गया है 1.उपभोग, 2.उत्पादन, 3.विनिमय और 4.निवेश।

प्रश्न: अर्थव्यवस्था को प्रभाषित करें।
उत्तर: अर्थव्यवस्था वह प्रणाली है जो लोगों को जीविका अर्जित करने के साधन और जीविका प्रदान करती है।

प्रश्न: संसाधनों की दुर्लभता का क्या अर्थ है?
उत्तर: संसाधनों की दुर्लभता से अभिप्राय उस स्थिति से है जिसमे किसी संसाधन की पूर्ति, उसकी माँग की तुलना में काम होती है?

प्रश्न: आर्थिक समस्या क्या है?
उत्तर: आर्थिक समस्या मुख्य रूप से चुनाव की समस्या होती है जो व्यकल्पिक प्रयोग वाले सीमित संसाधनों के कारन किसी अर्थव्यवस्था के समक्ष उत्पन्न होती है। एक अर्थव्यवस्था को मुख्य रूप से निम्नलिखित तीन बातों का चुनाव करना होता है:

  1. क्या उत्पादन करें और उसकी मात्र कितनी हो?
  2. उत्पादन कैसे करें?
  3. उत्पादन किसके लिए करें?

प्रश्न: अवसर लागत को परिभाषित करें?
उत्तर: एक अवसर का चयन करने पर दुसरे सर्वश्रेष्ट अवसर का किया गया त्याग अवसर लागत कहलाता है।

प्रश्न: उत्पादन संभावना से आप क्या समझते है?
उत्तर: जब एक अर्थव्यवस्था वैकल्पिक उपयोग वाले सीमित संसाधनों से एक से अधिक वस्तुओं का उत्पादन करता है तो विभिन्न वस्तुओं की उत्पादन मात्र कितनी होगी इसके कई संभावनाएँ उत्पन्न होती है जिसे उत्पादन संभावना कहा जाता है।

प्रश्न: उत्पादन संभावना वक्र क्या है?
उत्तर: जब एक अर्थव्यवस्था वैकल्पिक उपयोग वाले सीमित संसाधनों से दो वस्तुओं का उत्पादन करता है तो दोनों वस्तुओं की उत्पादन मात्र में विभिन्न संभावनाएँ उत्पन्न होती है जिसे उत्पादन संभावना कहा जाता है, इन संभावनाओं को प्रदर्शित करने वाला वक्र उत्पादन संभावना वक्र के नाम से जाना जाता है। दुसरें सब्दों में उत्पादन संभावना वक्र, वैकल्पिक प्रयोग वाले सीमित संसाधनों के प्रयोग से उत्पन्न दो वस्तुओं के उत्पादन के विभिन्न संभावनाओं को प्रदर्शित करती है।

ppc curve, utpadan sanbhavana vakra, उत्पादन संभावना वक्र, jharkhand pathshala
Production possibility curve उत्पादन संभावना वक्र

 
संपादन जारी है भी …………………………………

Thank you very much for visiting our website to read The Enemy Ncert book solutions. Our aim in creating this website is to promote free education. It is not possible to do this noble work alone, so we need help from those who want to support us in this purpose. You can follow our various pages to support us, whose links are given below:

1 thought on “Vyashti Arthshastra Ek Parichay Class 12”

Leave a Comment